motivational blog, inspirational, goal setting, life coch, etc

Saturday, 16 December 2017

टॉप 5 गलतियां - करोड़ों की बिज़नेस क्यों डूब गया

टॉप 5  गलतियां - करोड़ों की बिज़नेस क्यों डूब गया 

हममें से बहुत  लोग अपना खुद  का बिजनेस करना चाहते हैं और इनमें से अधिकतर लोगों का पहले से कोई बिजनेस नहीं होता जिसके कारण कोई बिजनेस अनुभव नहीं होता। इन्हीं में से मैं भी था एक छोटी परिवार से एक सपना लिए खुद का बिजनेस को लेकर।
टॉप 5  गलतियां - करोड़ों की बिज़नेस क्यों डूब गया

मैं अपने परिवार को माध्यम परिवार भी नहीं बोल सकता। सपने थे बिजनेस के लिए उसे पूरा करने के लिए मैंने एक फाइनेंस कंपनी की जॉब भी छोड़ दिया। परिवार के कुछ सहयोग से करीब लाख रुपयों से एग्रीकल्चर बेस्ड बिजनेस शुरू किया इससे पहले उस एरिया में करीब नौ पहले से बिजनेस था जो पहले से अच्छी कंडीशन में थी।
हमारा बिजनेस शुरू होने के साथ ही काफी अच्छी कंडीशन में आ गयी हालांकि शुरू में मेहनत हर बिजनेस में करना पड़ता है अच्छी सर्विस भी दिए।  अच्छी प्रमोशन भी किया उस एरिया में मेरा ही पहला लक्की ड्रा का भी बहुत अच्छा स्कीम  साथ बिजनेस कुछ महीनों में काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला।

बिजनेस अच्छा व्यवहार और प्रोडक्ट के साथ अच्छी सर्विस के वजह से काफी मात्रा में लोग हमसे जुड़ते चले गए। बिजनेस को बढ़ाने के लिए हमें और इन्वेस्टमेंट की भी जरूरत भी पड़ी। बिजनेस में इन्वेस्ट के लिए एक तो बैंक होता है और दूसरी साहूकार। कुछ govt. स्कीम का प्रमाणपत्र होने के बावजूद बैंक से लोन ले नहीं पाए। बैंक मॉडगेज  ही देखता है।

फिर हमारे सामने एक ही विकल्प था साहूकार , साहूकार का इंट्रेस्ट बहुत ज्यादा ही होता है। हमें अपने बिजनेस को बढ़ाने  के लिए साहूकार से उधार लेना ही पड़ा।

कुछ वर्षों के अंदर ही हमारा बिजनेस उस एरिया में टॉप में गिनती होने लगी।  काफी अच्छा सर्विस और प्रोडक्ट लोगों को मिला।

बिजनेस में चाहे वह छोटी हो या बड़ी आज बिना क्रेडिट का बिजनेस नहीं चलता खासकर छोटी बिजनेस। हमें भी क्रेडिट तो देना ही था अपने कस्टमर्स को लेकिन उधार का पैसा समय पर नहीं मिलता तो बोझ बढ़ते चला जाता है।

दोस्तों बिजनेस चाहे जो भी हो आपका प्लानिंग अच्छा है तो हमेशा चलना ही है आपको मैनेज़ करना पड़ेगा। हमने जो गलतियां किये हैं उसे अपने अनुभव से आपको बता रहें हैं -


डिमांड और सप्लाई --  हर बिजनेस चाहे वह छोटा हो या बड़ा हमेशा मार्किट में डिमांड ध्यान में रखना चाहिए किस चीज़ का डिमांड मार्किट में है। वह प्रोडक्ट हमेशा आपके पास होना चाहिए अगर वह प्रोडक्ट आप नहीं बेचते तो उसके विकल्प में जो प्रोडक्ट है उसे जरूर रखना चाहिए। कई बार हम समय पर उस प्रोडक्ट को कस्टमर्स तक नहीं पंहुचा पाते जिसके वजह से हमें नुकसान भी उठाना पड़ता है। बिजनेस में एक चीज़ हमेशा ध्यान रखना पड़ता है कस्टमर्स किसी का नहीं होता अगर आपके पास वह प्रोडक्ट नहीं होगा तो वह दूसरे के पास जरूर जायेगा। उसके जगह अगर हम खुद होंगे तो हम भी जायेंगे।
इसलिए हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए और मार्किट में हमेशा पैनी नज़र होनी चाहिए ताकि डिमांड और सप्लाई समय पर हो सके।

क्रेडिट का बिजनेस -- दोस्तों ऐसा बिजनेस बहुत कम होता है जिसमें हम उधार में बिजनेस नहीं करते ज्यादातर बिजनेस में हमें करना ही पड़ता है।  क्रेडिट में लोग प्रोडक्ट लेने के बाद भूल जाते हैं और लेट से आपका पैसा आपको मिलता है लेकिन ध्यान रहे आप अगर उनको क्रेडिट नहीं देंगे तो दूसरे बिजनेस वाले उस कस्टमर्स को क्रेडिट दें ही सकते हैं इसलिए हमारी मज़बूरी हो जाती है। बिजनेस को बढ़ाना है और कस्टमर्स ख़राब न हो करके हम हमेशा क्रेडिट में बिजनेस करते ही हैं। 

ऋण लेना  --  ऋण दो तरह से लिया जाता है आपका फेस वैल्यू या फिर आपका परिवार अच्छा है तो बैंक से लोन मिल जायेगा। दूसरा आपका साहूकार जो ज्यादा इंट्रेस्ट के साथ आपका इन्तेजार कर रहें हैं। दोस्तों बिजनेस में लोन लेना ही पड़ता है चाहे छोटा हो या बड़ा। इस लोन को समय के अंदर ही चूका दें।

हमारे बिजनेस में ऋण को न चूका पाने का कारण हमारा क्रेडिट का बिजनेस था जिसके वजह से सही समय पर ऋण का पैसा लौटा नहीं पाए जिसके वजह से लम्बे समय तक इंट्रेस्ट में पैसा चला गया जो कुछ समय में उनका पैसा दुगुना भी हो जाता था। यही हमारी बिजनेस का मुख्य वजह था।

हर कार्य को खुद करना -- दोस्तों बिजनेस अकेले करने का नहीं होता है यह एक टीम के साथ ही होता है हर कार्य के लिए आपको अलग - अलग वर्कर की आवश्यकता होती है। ज्यादातर लोग ये भी गलती करते हैं इनमें से मैं  भी था। बहुत से कार्य मैं खुद अकेले करता था और कभी - कभी मेरा एक दोस्त था जो कार्य करता था कुछ समय के लिए। और जब समझ आया तो लेट हो गया था बिजनेस की कंडीशन अच्छी न थी।
इसलिए टीम के साथ कार्य कीजिये चाहे आप अकेले हर कार्य को कर सकतें हैं लेकिन टीम में अकेला वर्कर भी होगा तो इससे बिजनेस बढ़ता है। टीम के वजह से ही बिजनेस ग्रो करता है चाहे छोटा हो या बड़ा।

अपने आप को समय न देना  -- अपने आप को समय न देना शायद ये आपको समझ नहीं आया होगा। दोस्तों हम जब कुछ भी करतें हैं चाहे बिजनेस हो या कुछ और। हमेशा बहुत ही ज्यादा व्यस्त हो जातें हैं जिसके वजह से खुद को अपडेट नहीं कर पाते। दिन भर वर्क के वजह से शारीरिक और मानसिक थकावट हो जाता जिसके वजह से मैं शॉप से घर और घर से शॉप यही कई वर्षों तक चलता आया। खुद को समय नहीं दिया खुद को समय देने का मतलब है नए चीजे सीखना।  बिजनेस का स्ट्रैटिजिक, सक्सेस्फुल लोगों की स्टोरी बहुत सारे चीजें हैं जो आपको करना चाहिए।
मैं अपने बिजनेस से बहुत खुश था पैसे थे , मार्केट में नाम था काफी कुछ जो एक बिजनेस मैन चाहता है वो चीजें थी। लेकिन आज उससे भी ज्यादा खुश हूँ आज वो बिजनेस मेरे पास नहीं है लेकिन उसे खोने के बाद मैंने बहुत कुछ सीखा। खुद को अपडेट कर रहा हूँ इसलिए आज ब्लॉग पर अपनी स्टोरी शेयर कर रहा हूँ।

दोस्तों मेरा मानना है आप किसी भी फील्ड में काम करते हो लेकिन अपने आप को हमेशा अपडेट कीजिये।

आप अपना अनुभव हमसे साझा  नीचे  कमेंट्स करके कर सकते हैं। अगर कोई कमी रह गई हो तो बेझिझक बता सकते हैं ताकि हमारे भविष्य के पोस्ट बेहतर हो।  आप किसी के बारे में जानना चाहते हैं तो कमेंट्स  में जरूर बताइये कोशिश करेंगे आप तक पहुचाने की।  आखिर में , अगर आपको ये पोस्ट लाभदायक लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर करना ना भूलें। धन्यवाद। जय हिन्द।  .......

0 Please Share a Your Opinion.:

Post a Comment

Connect us on social media

Ad

Popular Posts

Translate

Recent Posts

book