motivational blog, inspirational, goal setting, life coch, etc

Tuesday, 14 November 2017

जीवन में सफलता चाहिए तो खुद को पहचान लो

जीवन में सफलता चाहिए तो खुद को पहचान लो
अगर आप अपने जीवन में सफल होना  चाहते हैं तो खुद को पहचानना और खुद से संवाद करना सीखना होगा। आज हम खुद को जानने की कोशिश करते हैं।  हमारे अंदर असीमित शक्ति है लेकिन उससे अनभिज्ञ रहते हैं और उसे जानने की कोशिश भी नहीं करते। अपने अंदर की शक्ति को पहचान लिए तो आप जो कर सकते हैं उसके बारे में सोच भी नहीं सकते। अगर जिंदगी में सफलता पाना चाहते हैं तो आपको खुद को जानना बहुत जरुरी है। खुद को भविष्य के लिए तराशना पड़ेगा , इस जीवन में इंसान को अपनी 80 प्रतिशत लड़ाइयां खुद से लड़नी पड़ती है और उस समय हमें अपने आपसे दोस्ती का महत्व समझ में आता है और अपने अंदर बैठे       काउंसलर को हम जान पाते हैं।

जीवन में सफलता चाहिए तो खुद को पहचान लो

हम तीन विषय पर बातें  करेंगे --
खुद की रीबूटिंग
खुद की  काउंसलिंग
खुद से दोस्ती

खुद की रीबूटिंग --
रीबूटिंग शब्द से हम अनभिज्ञ नहीं हैं। सॉफ्टवेयर के बदलाव को आत्मसात करना और कार्यक्षमता में और बेहतर होना।  सॉफ्टवेयर को और बेहतर बनाना और उस पर होने वाले हमलों को विफल करना।  अब हम रीबूटिंग में खुद को जोड़ेंगे जिससे हमारी क्षमताएं और विकसित होगी।  नई चीज़े सीखने की हमारी ताकत , खुद में बदलाव लाने की हमारी क्षमता , स्वयं में सकारात्मक सोच विकसित करने की हमारी इच्छा शक्ति हमेशा हमें सामाजिक ऊर्जा देती है।  इस सृष्टि में कुछ भी नहीं ठहरता।  सब कुछ तेजी से बदलता है। अपने आप को नई टेक्नोलॉजी से रूबरू करवाना , अपनी भावनात्मक क्षमता बढ़ाना , दूसरों के प्रति सहिष्णु होना , अपना सामाजिक दायित्व निभाना , किसी एक को शिक्षित करना।  अपने आप को रीबूट करना है स्वयं में बदलाव लाना हैं। नित प्रदूषित होते सॉफ्टवेयर को लगातार अपडेट करना आपको नयापन देगा।  इसके लिए आपको निरन्तर सीखना पड़ेगा।  जब आप निरन्तर न्य सिखने की कोशिश करते  को रीबूट करते हैं और इससे आपके जीवन को एक न्य अर्थ मिलता है।

खुद की काउंसलिंग --
हर मनुष्य के अंदर कुशाग्र बुध्दि काउंसलर होता है लेकिन हम उससे मिल नहीं पते , उसे खोज नहीं पते हैं। हम उसको जानते भी नहीं हैं।  हमारी अनभिज्ञता और दूसरों  समस्या के उत्तर जानना हमे सदैव आकर्षित करता है। आपके अंदर ऐसा प्रकृति प्रदत्त सिस्टम होता है जो आपको किसी भी दुःख से उबारने की क्षमता रखता है।  किसी सुख में जरूरत से ज्यादा बहने पर आपकी आलोचना करता है।  आपको संतुलित करता है।  वह आपको भीतर से जानता है।  किसी और से बेहतर आपकी कमियों और ताकतों से वाकिफ है।  उसमें आपको दुनियावी या स्वयं के अवसाद से निकालने की असाधारण क्षमता है। आपके जख्मों पर ठंडा लेप लगा सकता है।  वह आपके टूटने पर फिर से आपको जोड़कर खड़ा कर सकता है।  उससे बेहतर आपको कोई नहीं जानता , इसलिए आपके लिए उससे बेहतर कोई हो ही नहीं सकता। वह आपको हर दुःख से हाथ पकडकर खींच सकता है।  वह आपके अंदर हर सुख को जप्त करने का माददा उत्पन्न करता है।  आपको उस काउंसलर को विकसित करना पड़ेगा। आपको उससे सलाह लेनी पड़ेगी।  उससे बात करके तो देखिये।  वह आपकी प्रतिरोधक क्षमता है। वह आपको स्थिर करेगा।  वह आपको बिखरने नहीं देगा।  वह आपके अंदर है। यदि उसको साध लिया तो किसी कंधे की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

खुद से दोस्ती --
अपने आप से दोस्ती . ......... सुनने में थोड़ा किताबी लगता है पर यह नितांत यथार्थवादी विचार है।  खुद से बेहतर दोस्त आपको नहीं मिलेगा।  अपने आपको दोस्त बना कर तो देखिये।  इस दोस्त से वार्तालाप तो कीजिये।  उसकी चिंता भी कीजिये , उसका ख़याल रखिये।  जो व्यक्ति खुद की देखभाल कर पाता है वही दूसरों की भी कर सकता है।  अपने आपको इग्नोर मत कीजिये।  स्वयं से संवाद सकारात्मक प्रक्रिया है दोस्ती बड़ा ईमानदार रिश्ता होता है।  खुद से दोस्ती का अर्थ खुद से ईमानदार होना है।  दोस्ती एक पौधे की तरह होती है जिसे धूप , पानी गुड़ाई और स्नेह की आवश्यकता होती है।  इसके बाद ही दोस्ती पनपती है।  अपने आप से दोस्ती यानि स्वयं को स्नेह करना , दोस्तों की तरह सलाह लेना , अपने आपको भ्रम से बाहर निकलना और स्वयं को प्रदूषण मुक्त करना।

गौर करें।, अमल करें 
निरंतर अपने आप में सुधार होता रहे। हम निरंतर नया सीखें और नए बने रहें।
रुके नहीं , निर्बाध गति से बहते रहें।
खुद अपने दुखों को नियंत्रित करना सीखें।
खुद की टूट - फूट को अपने आंतरिक शक्ति से मरम्मत करें।
खुद से दोस्ती करे ,अपना ख़याल रखें।


आप अपना अनुभव हमसे साझा  नीचे  कमेंट्स करके कर सकते हैं। अगर कोई कमी रह गई हो तो बेझिझक बता सकते हैं ताकि हमारे भविष्य के पोस्ट बेहतर हो।  आप किसी के बारे में जानना चाहते हैं तो कमेंट्स  में जरूर बताइये कोशिश करेंगे आप तक पहुचाने की।  आखिर में , अगर आपको ये पोस्ट लाभदायक लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर करना ना भूलें। धन्यवाद। जय हिन्द।  .......


0 Please Share a Your Opinion.:

Post a Comment

Connect us on social media

Ad

Popular Posts

Translate

Recent Posts

book