motivational blog, inspirational, goal setting, life coch, etc

Monday, 30 October 2017

जिंदगी में कुछ भी असंभव नहीं है - Nick Vujicic

जब हम किसी का एक हाथ नहीं देखते तो सोचने लगते हैं ,किसी का पैर नहीं होता तो बहुत दुःख होता है। लेकिन आज ऐसे व्यक्ति के बारे में आपको बताने जा रहे हैं जिनके ना हाथ है , ना पैर। दोस्तों हम बात कर रहे हैं  Nick Vujicic के बारे में जो जन्म से ही बीमारी से ग्रसित थे। निक ने बचपन से ही बहुत से समस्याओं को फेस किया , हर राह पर चुनौतियां ही थी।  निक हर परेशानियों से लड़कर आगे बढ़ते गए। हालांकि यह आसान नहीं था। निक ने साबित किया कि जिंदगी में कुछ भी असंभव नहीं है। 
    
                 "अगर आपके साथ चमत्कार नहीं हो सकता , तो खुद एक चमत्कार बन जाइये। "
जिंदगी में कुछ भी असंभव नहीं है - Nick Vujicic

निक का बायोग्राफी
4 दिसम्बर 1982 को Nick Vujicic  का जन्म मेलबर्न , ऑस्ट्रेलिया में हुआ। इनके पिता का नाम Boris Vujicic तथा माता का नाम Dushka Vujicic है। इनकी माँ बच्चों के अस्पताल में नर्स थी तथा पिता एक accountant थे। निक का जन्म फोकमेलिया ( phocomelia ) नामक दुर्लभ बीमारी के साथ हुआ था। जिससे उनके जन्म से ही दोनों हाथ और पैर नहीं थे। पैर की जगह उनके कूल्हे पर सिर्फ एक छोटा सा पंजा है। निक के माता - पिता ने जब बिना हाथ और बिना पैर वाला बच्चा देखा तो बुरी तरह हताश हो गए। धीरे -धीरे निक के माता - पिता को समझ आया कि  ये बच्चा उनके लिए भगवान की देन है और उन्हें ये ख़ुशी से स्वीकार करना चाहिए। उसके बाद वे निक को प्यार करने लगे।
                    कई डॉक्टर उनके इस विकार को सुधारने में असफल हुए और आज भी निक अपना जीवन बिना हाथ - पैर के ही जी रहे हैं। बिना हाथ -पैर के बचपन गुजरना काफी मुश्किल हो गया था।  काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ा। निक ने कभी भी अपने इस विकार से हार नहीं मानी  और हमेशा औरों की तरह जिंदगी जीने की कोशिश करते रहे। लेकिन निक लोगों के हँसी  और मजाक के पात्र बन गए थे। जिससे वह एक दिन डिप्रेशन में आ गए और 10 साल की उम्र में उन्होंने बाथटब में डूबकर मरने की कोशिश की लेकिन किस्मत से बच गए।

माता - पिता ने फाइटर बनाया

अपने माता पिता के वजह से ही वह फाइटर बन पाए।  निक के पिता 18 महीने की उम्र से ही उन्हें पानी में छोड़ देते थे ताकि वह तैरना सीख सके। 6 साल की उम्र से ही उन्हें पिता उन्हें पंजे की मदद से टाइप करना सिखाने लगे। अपने माँ की वजह से पेन और पेंसिल पकड़ना सीखा और लिखना भी सीखा।  निक के माता - पिता  ने निक को स्पेशल स्कूल न भेजकर उन्हें सामान्य बच्चों के साथ पढ़ाने का फैसला किया जो काफी मुश्किल भरा था। इससे आम बच्चों की तरह हर काम करना सीखा।  छोटे पंजे के  मदद से ही  उन्होंने फुटबॉल और गोल्फ खेलना सीखा ,तैरना सीखा। निक अपने पंजे की मदद से अपना शरीर का बैलेंस बनाते हैं, किक मारते हैं , ड्रम बजाते हैं, फिशिंग करते हैं पेंटिंग करते हैं स्काई ड्राइविंग करते हैं व पंजे से लिखते हैं और कम्प्यूटर पर एक मिनट में 43 शब्द की स्पीड से टाइप भी करते हैं। इसी पंजे से कार ड्राइव करते हैं और मुँह की मदद से गियर बदल लेते हैं।
                   अकेलेपन , मुश्किलों और विकलांगता से लड़ते हुए उनकी सोच पूरी तरह बदल गई। जब निक 13 साल के थे तब उनकी माँ ने उन्हें एक लेख पढ़कर सुनाया जिससे निक का जीने का नजरिया ही बदल दिया। यह लेख अखबार में प्रकाशित हुआ था जिसमें  एक विकलांग व्यक्ति  अपनी विकलांगता की जंग और उस पर जीत  की कहानी थी।  उस दिन निक को समझ आ गया था कि विकलांगता से संघर्ष करने वाले वह अकेले व्यक्ति नहीं है।

निक की सफलता की कहानी :-

Nick लगातार आगे  बढ़ते गए। निक Positive Attitude पर काम करना शुरू किया और लोगों के साथ अपनी कहानी शेयर करनी शुरू कर दिया।  इसके लिए निक ने Attitude is Attitude नाम की कंपनी खड़ी कर दी। 17 साल की उम्र में उन्होंने preyer groups में जाकर लेक्चर देना शुरू कर दिया। 19 साल की उम्र से वे एक full time Motivational Speaker बन गए। आज निक पुरे विश्व की यात्रा कर रहे है और अपनी प्रेरणादायी घटनाओ से लोगो को प्रेरित कर रहे हैं विश्व भर में आज निक के करोडो अनुयायी हैं , जो उन्हें देखकर प्रेरित होते हैं।



Books  and Publications :-

निक ने कई किताबें लिखी हैं जो इस प्रकार है -

1 :- Life without Limits - Inspiration of a Ridiculously Good Life in

2 :- Your Life Without Limits in 2012

3 :- Limitless : Devotions for a Ridiculously Good Life in

4 :- Unstoppable : The Incredible Power Of Faith in Action in 2013

5 :- The Power of Unstoppable Faith in 2014

6 :- Stand strong in 2015

7 :- Love without Limits in 2016

Awards :-

निक को अपने काम के लिए कई अवार्ड्स भी मिले हैं जो इस प्रकार है :-


1 :-  Australian Young Citizen Award in 2019

2 :- Young Australian of the yearin 2005

3 :- Well Done Award through the Kingdom Assignment Organization in 2008


Nick  Vujicic  के बारे में :-

1 :- 21साल की उम्र में उन्होंने  Accounting & Finance में Graduation कर लिया।
2 :- अब तक 44 देशों में 40000 से ज्यादा Motivational Speech दे चुके हैं।
3 :- 2005 में "Life without Limbs "नाम से अन्तर्राष्टीय NGO बनाया।
4 :- 2010 में निक ने The Butterfly Circus के नाम से शार्ट फिल्म बनाई जिसमे बेस्ट एक्टर का अवार्ड मिला।
5 :- 2012 में कायने मियाहारा से शादी की और कियोशी जेम्स तथा ड़ेजन लेवी नाम के दो बच्चे हैं जो पूरी तरह स्वस्थ हैं।
6 :- निक एक लेखक , संगीतकार , कलाकार हैं और साथ ही उनको फिशिंग , पेंटिंग और स्विमिंग में भी काफी रूचि है।
         
    " I am gonna try again and again.because the moment I give up. is the moment I fail."

             निक की कहानी उन लोगों के लिए प्रेरणा है , एक मिसाल है जो जिंदगी में किसी कमी को लेकर ,अपने शरीर की किसी विकलांगता  को लेकर या जिंदगी की मुश्किलों या समस्याओं को लेकर परेशान रहते हैं या अपने जिंदगी से हार मान लेते हैं या फिर खुद को असहाय महसूस करते हैं।  दोस्तों निक ने भगवान को कोसा रहता तो आज उन्हें पूरी दुनिया नहीं जानती। जो है उसे स्वीकार कीजिये और आगे बढिये। कहते है भगवान हमेशा परफेक्ट बनाया है किसी के लिए आपको वह चीज़ वह फील्ड देखना है जो आपके लिए उचित है जो आपके लिए बना है।

आप अपना अनुभव हमसे साझा  नीचे  कमेंट्स करके कर सकते हैं। अगर कोई कमी रह गई हो तो बेझिझक बता सकते हैं ताकि हमारे भविष्य के पोस्ट बेहतर हो।  आप किसी के बारे में जानना चाहते हैं तो कमेंट्स  में जरूर बताइये कोशिश करेंगे आप तक पहुचाने की।  आखिर में , अगर आपको ये पोस्ट लाभदायक लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर करना ना भूलें। धन्यवाद। जय हिन्द।  .......

0 Please Share a Your Opinion.:

Post a Comment

Connect us on social media

Ad

Popular Posts

Translate

Recent Posts

book