motivational blog, inspirational, goal setting, life coch, etc

Sunday, 29 October 2017

अगर आपने कुछ करने को ठान लिया तो आप अवश्य ही उसे हासिल कर लेंगे


 जिंदगी में सपने सभी के होते है कुछ करने के लिए कुछ लोग उसे हासिल करने के लिए कुछ भी कर गुजरते हैं और कुछ लोग समस्याएं गिनाते रहते हैं। दोस्तों अगर आप कुछ ठान लें तो अवश्य ही उसे हासिल कर सकते हैं। 

Sandeep mahehswari biography and success story



http://www.surajlifechanger.com/2017/10/blog-post_29.html

         
                एक गांव में दो दोस्त रहते थे। एक बार उन्होंने शहर जाकर कुछ काम करने का फैसला किया और शहर के लिए निकल पड़े। गांव के अंत में एक जमी हुई नदी थी। शहर जाने के लिए उन्हें वह नदी पर करनी ही थी। वहां कोई पूल भी नहीं था। ऐसे में एक दोस्त ने कहा कि नदी पार करना खतरनाक है , इसलिए बेहतर है गांव में ही रहें। हालांकि , दूसरा दोस्त कुछ और ही सोच रहा था। उसने मन में निश्चय कर लिया था कि वह किसी भी कीमत पर शहर जाकर ही रहेगा। अपने इस दृणनिश्चय के साथ वह जमी हुई नदी पर आगे बढ़ने लगा। उसका दोस्त किनारे पर खड़ा होकर उसे ऐसा करने से रोक रहा था। वह चिल्ला रहा था कि तुम गिर जाओगे। कुछ कदम चलने के बाद वह जमी हुई नदी पर फिसल गया। किनारे खड़े दोस्त ने उसे लौटने के लिए कहा लेकिन वह फिर से खड़ा हुआ और आगे बढ़ने लगा। धीरे - धीरे सावधानी से आगे बढ़ते हुए उसने आखिरकार नदी पार कर ली और शहर की ओर बढ़ गया। वहीं , उसके दोस्त ने नदी पार करने की कोशिश ही नहीं की और वहीं रह गया।

" जब तक आप किसी चीज़ को सचमुच न चाहो तब तक वह चीज़ प्राप्त होने की संभावना नहीं होती।"

" आप जिंदगी के लिए कोई योजना बनाएं या ना बनाएं लेकिन ज़िंदगी आपके लिए हमेशा योजनाएं बनाती रहती है। "

               दोस्तों जब भी आप कुछ करना चाहे तो कभी रास्ता आसान नहीं होगा।  कुछ भी करें कुछ न कुछ परेशानी आएगी और वह आपको परेशान करने के लिए नहीं होता वो आपको मजबूत बनाने के लिए होता है। ताकि आप पहले से ज्यादा अंदर से मजबूत हो सकें। यही समस्या आपको औरों से अलग करती है ताकि आप बेहतर हो सके आप अपने सपने पुरे कर सकें।  अगर आप कुछ ठान लें तो अवश्य ही उसे हासिल कर सकते हैं।  उस सफलता तक पहुंचने के लिए इस नदी के समान बहुत सारे समस्याएं आएगी उसे पार करना ही पड़ेगा। अगर  जय हिन्द।

      " सफलता के लिए कोई लिफ्ट नहीं जाती , इसलिए सीढ़ियों से ही जाना पड़ेगा। "  

0 Please Share a Your Opinion.:

Post a Comment

Connect us on social media

Ad

Popular Posts

Translate

Recent Posts

book